Bjp Vote Percentage Decreased In West Bengal Assembly Elections – चुनाव नतीजे: बंगाल में 2019 के मुकाबले भाजपा का मत प्रतिशत करीब 2 फीसदी घटा

Bjp Vote Percentage Decreased In West Bengal Assembly Elections – चुनाव नतीजे: बंगाल में 2019 के मुकाबले भाजपा का मत प्रतिशत करीब 2 फीसदी घटा


पीटीआई, दिल्ली
Published by: Jeet Kumar
Updated Mon, 03 May 2021 12:44 AM IST

सार

चुनाव आयोग के आंकड़ों के मुताबिक पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में भाजपा के मत प्रतिशत में दो प्रतिशत से कम की गिरावट हुई, जबकि तृणमूल कांग्रेस का आंकड़ा करीब पांच प्रतिशत बढ़ा।

ख़बर सुनें

भाजपा ने 2019 के लोकसभा चुनाव में 40.7 प्रतिशत वोट हासिल किए थे, और राज्य की 42 लोकसभा सीटों में से 18 पर जीत हासिल की थी। दूसरी ओर सत्ताधारी टीएमसी को 43.3 प्रतिशत वोट मिले थे।

चुनाव आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध ताजा आंकड़ों के अनुसार भाजपा को विधानसभा चुनावों में 38.09 प्रतिशत वोट मिले, जबकि टीएमसी के खाते में 47.97 प्रतिशत मत गए।

इसी तरह असम में भाजपा का मत प्रतिशत 2019 के लोकसभा चुनावों के मुकाबले विधानसभा चुनावों में 36 प्रतिशत से घटकर 32 प्रतिशत रह गया।

राज्य में मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस का वोट प्रतिशत 2019 के लोकसभा चुनावों के 35.44 प्रतिशत से घटकर 29.6 प्रतिशत रह गया।

तमिलनाडु में द्रमुक को 2019 के लोकसभा चुनावों में 32.76 प्रतिशत वोट मिले थे, जो इस बार बढ़कर 38 प्रतिशत हो गया। यहां अन्नाद्रमुक का मत प्रतिशत 33.48 प्रतिशत तक चला गया।

केरल में माकपा की अगुवाई वाले एलडीएफ को 2019 के समान ही वोट मिले, जबकि कांग्रेस के मत प्रतिशत में करीब 13 प्रतिशत की गिरावट हुई।

विस्तार

भाजपा ने 2019 के लोकसभा चुनाव में 40.7 प्रतिशत वोट हासिल किए थे, और राज्य की 42 लोकसभा सीटों में से 18 पर जीत हासिल की थी। दूसरी ओर सत्ताधारी टीएमसी को 43.3 प्रतिशत वोट मिले थे।

चुनाव आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध ताजा आंकड़ों के अनुसार भाजपा को विधानसभा चुनावों में 38.09 प्रतिशत वोट मिले, जबकि टीएमसी के खाते में 47.97 प्रतिशत मत गए।

इसी तरह असम में भाजपा का मत प्रतिशत 2019 के लोकसभा चुनावों के मुकाबले विधानसभा चुनावों में 36 प्रतिशत से घटकर 32 प्रतिशत रह गया।

राज्य में मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस का वोट प्रतिशत 2019 के लोकसभा चुनावों के 35.44 प्रतिशत से घटकर 29.6 प्रतिशत रह गया।

तमिलनाडु में द्रमुक को 2019 के लोकसभा चुनावों में 32.76 प्रतिशत वोट मिले थे, जो इस बार बढ़कर 38 प्रतिशत हो गया। यहां अन्नाद्रमुक का मत प्रतिशत 33.48 प्रतिशत तक चला गया।

केरल में माकपा की अगुवाई वाले एलडीएफ को 2019 के समान ही वोट मिले, जबकि कांग्रेस के मत प्रतिशत में करीब 13 प्रतिशत की गिरावट हुई।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *